कृषि Agriculture

  • कृषि भारत का प्रमुख व्यवसाय है। देश की श्रम शक्ति का लगभग दो-तिहाई भाग कृषि एवं संबद्ध क्षेत्र से आजीविका प्राप्त करता है। देश के सकल घरेलू उत्पाद मेँ कृषि का लगभग 17.5 प्रतिशत (2007-2008) का योगदान है।
  • भारत उर्वरकोँ के उत्पादन और खपत मेँ चीन, अमेरिका की बाद विश्व मेँ तीसरा स्थान रखता है। सर्वाधिक उर्वरक खपत वाले राज्य पंजाब, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश हैं।
  • भारत का भैंसों संबंध मेँ प्रथम, बकरी की संख्या मेँ द्वितीय, मवेशियोँ की संख्या तथा भेड़ के मामले मेँ तीसरे स्थान पर है।
  • भारत का विश्व मेँ प्राकृतिक रबड़ के उत्पादन मेँ तीसरा स्थान और उपभोग मेँ चौथा स्थान है।
  • देश मेँ सर्वाधिक मात्रा मेँ चावल का उत्पादन होता है, तथा गेहूं प्रति हेक्टेअर की उत्पादकता सर्वाधिक पंजाब मेँ है, तत्पश्चात हरयाणा मेँ है।
  • भारत विश्व मेँ चाय का सबसे बड़ा उत्पादक एवं उपभोक्ता और निर्यातक है। देश मेँ चाय मुख्यतः असम, पश्चिम बंगाल, केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु मेँ उगाई जाती है।
  • भारत विश्व मेँ काफी का 6वां सबसे बड़ा उत्पादक राष्ट्र है, भारत का सबसे बड़ा काफी उत्पादक राज्य कर्नाटक है।
  • आम, सपोटा, चीकू तथा केले के उत्पादन मेँ भारत का विश्व मेँ प्रथम स्थान है।
  • भारत मेँ अंगूर की प्रति हेक्टेअर उपज विश्व मेँ सर्वाधिक है।
  • भारत मेँ फलो के अंतर्गत सर्वाधिक क्षेत्र आम की कृषि के अंतर्गत है, तथा सर्वाधिक उत्पादन केले का होता है।
भारत के 3 सबसे बड़े उत्पादक राज्य
चावलपश्चिम बंगाल
उत्तर प्रदेश
पंजाब
गेंहूउत्तर प्रदेश
पंजाब
हरियाणा
मक्काकर्नाटक
आन्ध्र प्रदेश
उत्तर प्रदेश
कुल दालेंमध्य प्रदेश
उत्तर प्रदेश
महाराष्ट्र
कुल खाद्द्यान्न तिलहनउत्तर प्रदेश
पंजाब
पश्चिम बंगाल
मूंगफलीगुजरात
आन्ध्र प्रदेश
तमिलनाडु
रेपसीड व सरसोंराजस्थान
उत्तर प्रदेश
हरियाणा
सोयाबीनमध्य प्रदेश
महाराष्ट्र
राजस्थान
सूर्यमुखीकर्नाटक
आन्ध्र प्रदेश
महाराष्ट्र
कुल तिलहनराजस्थान
मध्य प्रदेश
महाराष्ट्र
अन्य व्यापारिक फसलें
गन्नाउत्तर प्रदेश
तमिलनाडु
महाराष्ट्र
कपासगुजरात (मिलियन बेल्स)
महाराष्ट्र (I-बेल 170 किग्रा)
आन्ध्र प्रदेश
जुट एवं मेस्तापश्चिम बंगाल (मिलियन बेल्स)
बिहार (I-बेल 180 किग्रा)
असम
आलूउत्तर प्रदेश
पश्चिम बंगाल
बिहार
प्याजगुजरात
महाराष्ट्र
कर्नाटक
भारत में कृषि क्षेत्र में हुई क्रांतियां
हरित क्रांतिखाद्द्यान्न (गेंहू-1, धान-2)नीली क्रांतिमतस्य उत्पादन
लाल क्रांतिमांस / टमाटर उत्पादनगुलाबी क्रांतिझींगा उत्पादन
पीली क्रांतितिलहन उत्पादनश्वेत क्रांतिदुग्ध उत्पादन
भूरी क्रांतिउर्वरक उत्पादनसुनहरी क्रांतिबागवानी (फलोत्पादन)
रजत क्रांतिअंडा उत्पादनगोल क्रांतिआलू उत्पादन
इन्द्रधनुष क्रांतिसभी क्रांतियों को मिलाकर
  • भारत विश्व मेँ सबसे बड़ा फल उत्पादक और दूसरा सबसे बड़ा सब्जी उत्पादक है।
  • भारत विश्व मेँ काजू का सबसे बड़ा उत्पादक एवं निर्यातक है।
  • भारत को विश्व मेँ मसालोँ का सबसे बड़ा उत्पादकं उपभोक्ता और निर्यातक होने का गौरव प्राप्त है।
  • नॉरमन ई-बोरलाग को हरित क्रांति का जनक माना जाता है, हरित क्रांति से उत्पादन मेँ सबसे अधिक वृद्धि गेहूँ मे हुई, चावल का भाग लगभग स्थिर रहा है, जबकि मोटे अनाज एवं दालों के भाग घटे हैं।
  • रबड़ के उत्पादन मेँ भारत का विश्व मेँ चौथा स्थान है, देश मेँ रबड़ की प्रति हेक्टेयर उत्पादकता विश्व मेँ सर्वाधिक है। देश मेँ प्राकृतिक रबड़ का आयात कोलकाता एवं विशाखापत्तनम बंदरगाहों के माध्यम से होता है। खाद्य तेलोँ और तिलहन फसलोँ के उत्पादन के क्षेत्र मेँ अनुसंधान और विकास करने की रणनीति को पीली क्रांति कहा गया।
राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान
संक्षिप्त नामपूरा नामस्थापना वर्षस्थानराज्य
IARIभारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान Indian Agricultural Research Institute (Pusa Institute)1905नई दिल्लीनई दिल्ली
IGFRIइंडियन ग्रासलैंड एंड फॉडर रिसर्च इन्स्टिट्यूट Indian Grassland and Fodder Research Institute1962झाँसीउत्तर प्रदेश
IIFMभारतीय वन प्रबंध संस्थान Indian Institute of Forest Management1982भोपालमध्य प्रदेश
IIHRभारतीय बागवानी अनुसंधान संस्थान Indian Institute of Horticultural Research1967हैसरघट्टा, बंगलौरकर्नाटक
IIPRभारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान Indian Institute of Pulses Research1984कानपूरउत्तर प्रदेश
IISRभारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान Indian Institute of Sugarcane Research1952लखनऊउत्तर प्रदेश
IVRIभारतीय पशु अनुसंधान संस्थान Indian Veterinary Research Institute1889इज्ज़तनगर, बरेलीउत्तर प्रदेश
CRIJAFकेन्द्रीय पटसन एवं समवर्गीय रेशा अनुसंधान संस्थान Central Research Institute for Jute and Allied Fibres 1938नीलगंज, बैरकपुरपश्चिम बंगाल
NIRJAFTनेशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ रिसर्च ऑन जूट एंड अलाइड फाइबर टेक्नालजी National Institute of Research on Jute and Allied Fibre Technology1939कोलकातापश्चिम बंगाल
SBIगन्ना प्रजनन संस्थान Sugarcane Breeding Institute1912कोयम्बटूरतमिलनाडु
VPKASविवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान Vivekananda Parvatiya Krishi Anusandhan Sansthan1985अल्मोड़ाउत्तराखंड
IASRIइंडियन एग्रिकल्चरल स्टॅटिस्टिक्स रिसर्च इन्स्टिट्यूट Indian Agricultural Statistics Research Institute1959नई दिल्लीनई दिल्ली
IISRइंडियन इन्स्टिट्यूट ऑफ स्पाइसस रिसर्च Indian Institute of Spices Research1975कोझिकोड (कालीकट)केरल
IGMRIइंडियन ग्रेन स्टोरेज मॅनेज्मेंट एंड रिसर्च इन्स्टिट्यूट Indian Grain Storage Management and Research Institute1958हापुड़उत्तर प्रदेश
IINRGइंडियन इन्स्टिट्यूट ऑफ नॅचुरल रेज़िन्स आंड गम्स Indian Institute of Natural Resins and Gums1925नमकूम, राँचीझारखण्ड
ISARDइन्स्टिट्यूट फॉर स्टडीस ऑन एग्रिकल्चर एंड रूरल डेवेलपमेंट Institute for Studies on Agriculture and Rural Development--

धाड़वाड़

कर्नाटक
IIVRभारतीय सब्जी अनुसंधान संस्थान Indian Institute of Vegetable Research1971वाराणसीउत्तर प्रदेश
IISSभारतीय मृदा विज्ञान संस्थान Indian Institute of Soil Science1988भोपालमध्य प्रदेश
NAARMराष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी National Academy of Agricultural Research Management1976हैदराबादतेलंगाना
NBRIराष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान National Botanical Research Institute1978लखनऊउत्तर प्रदेश
NDRIराष्ट्रीय डेरी अनुसंधान संस्थान National Dairy Research Institute1955करनालहरियाणा
NINराष्ट्रीय पोषण संस्थान National Institute of Nutrition1958हैदराबादआन्ध्र प्रदेश
NIRDनॅशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ रूरल डेवेलपमेंट & पंचायती राज National Institute of Rural Development & Panchayati Raj--हैदराबादतेलंगाना
NRCAFनॅशनल रिसर्च सेंटर फॉर एग्रोफॉरेस्ट्री National Research Center for Agroforestry1988झांसीउत्तर प्रदेश
NRCCराष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केंद्र National Research Centre On Camel1984बीकानेरराजस्थान
NRCCराष्ट्रीय नींबू वर्गीय फल अनुसंधान संस्थान National Research Center For Citrus1985नागपुरमहाराष्ट्र
DCRकाजू अनुसंधान निदेशालय Directorate of Cashew Research1985पुत्तूरकर्नाटक
DGRमूंगफली अनुसंधान निदेशालय Directorate of Groundnut Research1979जूनागढ़गुजरात
NRCIPMराष्ट्रीय समेकित नाशीजीव प्रबंधन अनुसंधान केंद्र National Centre for Integrated Pest Management1988नई दिल्लीनई दिल्ली
DMRमशरूम अनुसंधान निदेशालय Directorate of Mushroom Research1983सोलनहिमाचल प्रदेश
NRCPBराष्ट्रीय पादप जैव प्रौद्योगिकी अनुसंधान केंद्र National Research Centre on Plant Biotechnology1985नई दिल्लीनई दिल्ली
CIAHकेन्द्रीय शुष्क बागवानी संस्थान Central Institute for Arid Horticulture--बीकानेरराजस्थान
NRCBराष्ट्रीय केला अनुसंधान केंद्र National Research Centre for Banana1993तिरूचरापल्लीतमिलनाडु
NRCGराष्ट्रीय अंगूर अनुसंधान केन्द्र National Research Centre for Grapes    1997मंजरी, पुणेमहाराष्ट्र
DMAPRऔषधीय एवं सगंधीय पादप अनुसंधान निदेशालय Directorate of Medicinal and Aromatic Plants Research1992आनंदगुजरात
DOGप्याज एवं लहसुन अनुसंधान निदेशालय Directorate of Onion and Garlic Research1994राजगुरुनगरमहाराष्ट्र
NRCOराष्ट्रीय आर्किड्स अनुसंधान संस्थान National Research Centre for Orchids1996पाक्योंग,सिक्किम
DRMRसरसों अनुसंधान निदेशालय Directorate of Rapeseed-Mustard Research1993भरतपुरराजस्थान
IIWMभारतीय जल प्रबंधन संस्थान Indian Institute of Water Management1988भुवनेश्वरउड़ीसा
DSRDirectorate of Soyabean Research सोयाबीन अनुसंधान संस्थान1987इंदौरमध्य प्रदेश
NSIराष्ट्रीय शर्करा संस्थान National Sugar Institute1936कानपुरउत्तर प्रदेश
विश्व कृषि में भारत का स्थान
मदभारत प्रतिशतविश्व में स्थानविश्व में अग्रणी देश
खाद्य फसल
अनाज10.4तीसराचीन और संयुक्त राज्य अमेरिका
गेंहू12.6दूसराचीन
चावल20.3दूसराचीन
मोटा अनाज2.8चौथासंयुक्त राज्य अमेरिका, चीन और ब्राजील
कुल दालें23.6पहला-----
मूंगफली14.7दूसराचीन
रेपसीड15.1तीसराकनाडा और चीन
फल और सब्जियां
सब्जियां9.2दूसराचीन
फल1.2दूसराचीन
आलू7.8चौथाचीन, रुसी परिसंघ और पोलैंड
प्याज11.5दूसराचीन
व्यापारिक फसलें
गन्ना21.7प्रथम------
चाय29.5प्रथम------
जूट61.7दूसराबांग्लादेश
कपास9.3दूसरासंयुक्त राज्य अमेरिका, चीन
तम्बाकू9.1दूसराचीन
  • देश मेँ सब्जियोँ का सर्वाधिक उत्पादक पश्चिम बंगाल राज्य है। फलों का सर्वाधिक उत्पादन महाराष्ट्र मेँ होता है।
  • देश मेँ कृषि के अंतर्गत ट्रैक्टर का सबसे अधिक उपयोग उत्तर प्रदेश मेँ होता है।

भारतीय कृषि से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • भारत विश्व का सबसे बड़ा दूध उत्पादक राष्ट्र है, जबकि डेनमार्क संसार का सबसे बड़ा दूध व्युत्पन्न पदार्थ (Milk Products) उत्पादक राष्ट्र है।
  • प्रति व्यक्ति दूध की उपलब्धता सर्वाधिक 800 ग्राम है। वहीं पूर्वोत्तर राज्योँ मेँ औसतन 20 ग्राम दूध तक एक व्यक्ति को रोज मिल पाता है।
  • उर्वरक उत्पादन मेँ भारत का विश्व मेँ तीसरा स्थान है। प्रथम एवं द्वितीय राष्ट्र क्रमशः चीन और अमेरिका हैं।
  • उर्वरकोँ की खपत मेँ पंजाब और हरियाणा क्रमशः पहले एवं दूसरे स्थान पर हैं।
  • देश मेँ औसत वार्षिक वर्षा 117 से 125 सेंटीमीटर के बीच है। सबसे कम वर्षा देश में लेह (जम्मू कश्मीर) मेँ तथा सबसे अधिक मासिनराम (मेघालय) मेँ होती है।

कृषि एवं क्रांतियां

  1. हरित क्रांति, गेंहू उत्पादन - डॉ. विलियमगामड ने इसे हरित क्रांति की संज्ञा दी। इसे डॉ. नोरमान बोरलाग ने अमेरिका में तथा एम. एस. स्वामीनाथन को भारत में इनके विशेष योगदान के लिए जाना जाता है।
  2. श्वेत क्रांति, दूध उत्पादन - 1970 में आपरेशन फ्लड 3 चरणों में चलाया गया, जिसके सूत्रधार डॉ. वर्गीस कुरियन थे।
  3. पीली क्रांति, खाद्य तेल तथा तिलहन उत्पादन - तिलहन प्रौद्योगिकी मिशन1986 में प्रारंभ किया गया। 9 तिलहनों में सर्वाधिक उत्पादन सोयाबीन, मूंगफली एवं तीसरा स्थान तोरिया एवं सरसों का है। विश्व में सर्वाधिक तिलहनों का उत्पादन अम्ररीका में होता है।
  4. गोल क्रांति, आलू उत्पादन - भारत, रूस एवं चीन के बादविश्व का तीसरा सबसे बड़ा आलू उत्पादक राष्ट्र है। भारत में आलू 16वीं शताब्दी में पुर्तगाल से लाया गया था।
  5. नीली क्रांति, मछली उत्पादन - भारत विश्व का सबसे बड़ा मछली उत्पादक राष्ट्र है। देश में समग्र मछली उत्पादन में पश्चिम बंगाल है।
  6. गुलाबी क्रांति, झींगा मछली उत्पादन - भारत सबसे बड़ा झींगा मछली निर्यातक राष्ट्र है।
  7. कृष्ण क्रांति, पेट्रोलियम / खनिज तेल - पेट्रोल में एथेनॉल का मिश्रण बढ़ाकर 10% तक करना व जैव ईंधन का उत्पादन।
  8. धूसर क्रांति, उर्वरक उत्पादन - उर्वरकों की खपत में पंजाब प्रथम 194ं5 किग्रां है तथा तमिलनाडु दुसरे स्थान पर है।
  9. रजत क्रांति, अंडा तथा मांस उत्पादन - भारत विश्व में अंडा उत्पादन में 6वां स्थान रखता है। आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु तथा महाराष्ट्र सवसे बड़े अंडा उत्पादक राज्य हैं।
  10. सुनहरी क्रांति, बागवानी उत्पादन (सेब उत्पादन) - भारत सब्जी तथा फल उत्पादन में विश्व में दूसरा स्थान रखता है।
  11. इंद्रधनुषी क्रांति – सभी क्रांतियों को मिलाकर 2000 में में नई राष्ट्रीय क्रांति के तहत शुरू की गई।

सदाहरित क्रांति

हरित क्रांति की सफलता के पश्चात भारत को अब सदाहरित क्रांति की और बढ़ना है, ताकि देश के वार्षिक खाद्यान्न उत्पादन को 210 मिलियन टन के वर्तमान स्तर से दोगुना करके 420 मिलियन टन तक किया जा सके। यह विचार भारत के प्रमुख कृषि वैज्ञानिक एम. एस. स्वामीनाथन का है। इसके लिए उन्होंने विज्ञान की सर्वश्रेष्ठ तकनीकोँ के प्रयोग व जैविक कृषि मेँ शोध को बढ़ावा देने पर बल दिया है। मिट्टी के स्वास्थ्य का उन्नयन करने, लैब टू लैंड प्रदर्शनों को बढ़ावा देने, रेन वाटर हार्वेस्टिंग को अनिवार्य बनाने तथा किसानों को उचित मूल्य पर खाद उपलब्ध कराने की आवश्यकता भी उन्होंने बताई है।

भारत के कृषि जलवायु प्रदेश
कृषि जलवायु प्रदेशसम्मिलित राज्य
पश्चिमी हिमालय प्रदेशहिमांचल प्रदेश, जम्मू एवं कश्मीर, उत्तर प्रदेश
पूर्वी हिमालय प्रदेशअरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, सिक्किम, नागालैंड
गंगा की निचली घाटी का मैदानपश्चिम बंगाल
गंगा की मध्यवर्ती घाटी का मैदानउत्तर प्रदेश, बिहार
गंगा की उपरी घाटी का मैदानउत्तर प्रदेश
ट्रांस पठारी और पर्वतीय क्षेत्रबिहार, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल
मध्यवर्ती पठारी और पर्वतीय क्षेत्रआन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु
पश्चिमी पर्वतीय और पठारी क्षेत्रमध्य प्रदेश और महाराष्ट्र
दक्षिणी पठारी और पर्वतीय क्षेत्रआन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु
पूर्वी तटीय मैदान और घाट क्षेत्रगोवा, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु
गुजरात पर्वतीय और मैदानी क्षेत्रगुजरात, दमन और दीव, दादरा और नगर हवेली
पश्चिमी शुष्क क्षेत्रराजस्थान
द्वीप क्षेत्रअंडमान और निकोबार तथा लक्षद्वीप
अन्तर्राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान
संक्षिप्तपूरा नामस्थानदेशस्थापना वर्षसम्बंधित फसल
CIPइंटरनेशनल पोटैटो सेंटर International Potato Centerलीमापेरू1971आलू
ICARDAइंटरनेशनल सेंटर फॉर एग्रिकल्चर रिसर्च इन द ड्राइ एरीयाज़ International Center for Agriculture Research in the Dry Areasअलेप्पोसीरिया1976गेंहू, जौ, मसूर
ICGEBइंटरनेशनल सेंटर फॉर जेनेटिक इंजिनियरिंग एंड बायोटेक्नोलाजी International Centre for Genetic Engineering and Biotechnologyट्रिएस्ते, नई दिल्लीइटली, भारत1994आनुवंशिकता एवं जैव प्रौद्योगिकी
ICRISATइंटरनेशनल क्रॉप रिसर्च फॉर सेमी एरिड ट्रॉपिक्स International crop research for semi arid tropicsपाटनचेरू, हैदराबादतेलंगाना, भारत1972ज्वार, बाजरा, चना, मूंगफली, अरहर
IFPRIइंटरनेशनल फूड पॉलिसी रिसर्च इन्स्टिट्यूट International Food Policy Research Instituteवाशिंगटन डी.सी.अमेरिका1975फ़ूड पालिसी
IITAइंटरनेशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल एग्रिकल्चर International Institute of Tropical Agricultureइबादाननाइजीरिया1967ग्रेन लेग्यूम्स, जड़ एवं कंद फसलें
IRRIइंटरनेशनल राइस रिसर्च इन्स्टिट्यूट International Rice Research Instituteलॉस बनोस, लागुनाफिलीपींस1960धान अनुसंधान
ISNARइंटरनेशनल सर्विस फॉर नेशनल एग्रिकल्चरल रिसर्च International Service for National Agricultural Researchहेगनीदरलैंड1979कृषि, वानिकी और मत्स्य पालन
केन्द्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान
संक्षिप्तपूरा नामस्थापनास्थानराज्य
CARIसेंट्रल एग्रिकल्चरल रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Agricultural Research Institute1978पोर्टब्लेयरअंडमान एवं निकोबार
CAZRIकेन्द्रीय शुष्क क्षेत्र अनुसंधान संस्थानCentral Arid Zone Research Institute1959बासनी, जोधपुरराजस्थान
CFTRIकेन्द्रीय खाद्य प्रौद्योगिक अनुसंधान संस्थान Central Food Technological Research Institute1950मैसूरकर्नाटक
CIBAकेन्द्रीय खारा जलजीव पालन अनुसंधान संस्थान Central Institute of Brackish Water Aquaculture1987चेन्नईतमिलनाडु
CIFRIसेंट्रल इनलॅंड कैप्चर फिशरीस रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Inland Capture Fisheries Research Institute1947बैरकपुर, कोलकातापश्चिम बंगाल
CICRसेंट्रल इन्स्टिट्यूट फॉर कॉटन रिसर्च Central Institute for Cotton Research1976नागपुरमहाराष्ट्र
CIFAसेंट्रल इन्स्टिट्यूट ऑफ फ्रेशवॉटर एक्वाकल्चर Central Institute of Freshwater Aquaculture1987भुवनेश्वरउड़ीसा
CISHकेन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थानCentral Institute for Subtropical Horticulture1984लखनऊउत्तर प्रदेश
CIMAPकेन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थानCentral Institute for Medicinal and Aromatic Plants1959लखनऊउत्तर प्रदेश
CIRBकेन्द्रीय भैंस अनुसंधान संस्थानCentral Institute for Research on Buffaloes1985हिसारहरियाणा
CIRCOTसेंट्रल इन्स्टिट्यूट फॉर रिसर्च ऑन कॉटन टेक्नोलाजीCentral Institute For Research On Cotton Technology1987मुंबईमहाराष्ट्र
CIRGकेन्द्रीय बकरी अनुसंधान संस्थानCentral Institute for Research on Goats1979मखदूम (आगरा और मथुरा के बीच में)उत्तर प्रदेश
CMFRIकेन्द्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थानCentral Marine Fisheries Research Institute1947कोच्चिकेरल
CPRIसेंट्रल पोटैटो रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Potato Research Institute1949शिमलाहिमांचल प्रदेश
CRIDAकेन्द्रीय बारानी कृषि अनुसंधान संस्थानCentral Research Institute for Dryland Agriculture1985हैदराबादआंध्र प्रदेश
CRRIकेन्द्रीय चावल अनुसंधान केंद्रCentral Rice Research Institute1946कटकउड़ीसा
CSSRIसेंट्रल सायल सेलिनिटी रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Soil Salinity Research Institute1969करनालहरियाणा
CSWRIकेन्द्रीय भेड़ और ऊन अनुसंधान संस्थानCentral Sheep and Wool Research Institute1962अविकानगरराजस्थान
CTCRIसेंट्रल ट्यूबर क्रॉप्स रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Tuber Crops Research Institute1963तिरुवनंतपुरमकेरल
CITHसेंट्रल इन्स्टिट्यूट ऑफ टेम्परेट हॉर्टिकल्चर Central Institute of Temperate Horticulture----श्रीनगरजम्मू कश्मीर
CTRIसेंट्रल टोबॅको रिसर्च इन्स्टिट्यूट Central Tobacco Research Institute1947राजमुंदरीआन्ध्र प्रदेश
CPCRIकेन्द्रीय रोपण फसल अनुसंधान संसथान Central Plantation Crops Research Institute1970कासरगोडकेरल

 

भारत प्रमुख उत्पाद
फसलउत्पादक शीर्ष राज्य
गन्नाउत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु
कागजआन्ध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा
सीमेंटमध्य प्रदेश, आन्ध्र प्रदेश, राजस्थान, गुजरात
उर्वरकगुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र
जल विद्युत्कर्नाटक 12.6%
पंजाब 12%
आन्ध्र प्रदेश 8.9%
केरल 8.8%
महाराष्ट्र 6.3%
पवन उर्जातमिलनाडु – 2893 मेगावाट
महाराष्ट्र – 1001 मेगावाट
कर्नाटक – 585 मेगावाट
राजस्थान – 358 मेगावाट
ताप उर्जामहाराष्ट्र, गुजरात, उत्तर प्रदेश, बंगाल


One thought on “कृषि Agriculture

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *