निकट पूर्व में शरणार्थी फिलीस्तीनियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत एवं कार्य अभिकरण United Nations Relief and Works Agency for Palestine Refugees in the Near East – UNRWA

यह कार्याभिकरण इजरायल के निर्माण के दौरान (1948 में) अथवा उसके बाद बेघर हुए 7.5 लाख फिलीस्तीनी लोगों को राहत, शिक्षा एवं कल्याण सेवाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 1949 में महासभा के प्रस्तावाधीन एक गैर-राजनीतिक व अस्थायी अभिकरण के रूप में स्थापित किया गया था। इसका मुख्यालय गाजा पट्टी एवं अम्मान में है। इसके कार्यकाल को महासभा द्वारा समय-समय पर विस्तारित किया जाता रहा है। अभिकरण द्वारा 1948 के अरब-इजरायल विवाद से पूर्व कम-से-कम दो वर्ष तक फिलीस्तीन में रहे व्यक्ति को फिलीस्तीनी शरणार्थी का दर्जा दिया जाता है। अभिकरण ने कुल 34 लाख लोगों को शरणार्थी के रूप में पंजीकृत किया है, जिनमें से 11 लाख व्यक्ति 59 शरणार्थी शिविरों में रह रहे हैं। शेष लोग यूएनआरडब्ल्यूए, सीरिया, जार्डन, लेबनान, पश्चिमी तट एवं गज पत्ती द्वारा अपनी सेवाएँ दिए गये क्षेत्रों, गांवों या कस्बों में निवास करते हैं। 1967 के संघर्ष के बाद महासभा ने इस अभिकरण को अन्य विस्थापित लोगों (गैर-फिलीस्तीनी) को भी मानवीय सहायता उपलब्ध कराने की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपीं।

1993 से अभिकरण द्वारा सामाजिक-आर्थिक आधार संरचना के सुधार एवं रोजगार अवसरों के निर्माण के माध्यम से शांति प्रक्रिया को समर्थन देने की योजना बनाई गयी है। यद्यपि वित्तीय संकट के कारण इस प्रकार की कई सेवाओं में कटौती करनी पड़ी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.