कार्बन, हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के सरल कार्बनिक यौगिक Simple Organic Compounds of Carbon, Hydrogen and Oxygen

कार्बन, हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के संयोग से अनेक कार्बनिक यौगिकों का निर्माण होता है। इन यौगिकों में एल्कोहॉल (Alcohols), ईथर (Ethers), कीटोन (Ester), ऐल्डिहाइड (Aldehydes), कीटोन (Ketones), कार्बनिक अम्ल (Carboxylic Acids) आदि उल्लेखनीय हैं।

  1. ऐल्कोहॉल (Alcohols): ये कार्बन, हाइड्रोजन और ऑक्सीजन से बने सरल यौगिक होते हैं। किसी ऐल्केन से एक या अधिक हाइड्रोजन परमाणुओं को उतने ही हाइड्रॉक्सिल मूलकों (—OH) द्वारा प्रतिस्थापित करने पर जो यौगिक प्राप्त होते हैं, उन्हें ऐल्कोहॉल कहा जाता है। जिन ऐल्कोहॉल के अणुओं में केवल एक हाइड्रोक्सिल मूलक रहता है, वे मोनोहाइड्रिक ऐल्कोहॉल कहलाते हैं। जैसे- मिथेनॉल, एथेनॉल, इत्यादि। जिन ऐल्कोहॉल अणुओं में दो हाइड्रॉक्सिल मूलक रहते है, वे डाइहाइड्रिक ऐल्कोहॉल कहलाते हैं। जैसे- ग्लाइकॉल। सभी ऐल्कोहॉल में —OH अभिक्रियाशील समूह पाया जाता है। ऐल्कोहॉल श्रेणी के सदस्यों को सामान्य सूत्र CnH2n+1OH द्वारा व्यक्त किया जाता है, जहाँ n = 1, 2, 3, 4, 5, ...... आदि।
  2. ऐल्डिहाइड (Aldehydes): जिन कार्बनिक यौगिकों में में —CHO अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित रहता है, उन्हें ऐल्डिहाइड कहा जाता है, इनका सामान्य सूत्र CnH2n+1CHO होता है, जहाँ n = 1, 2, 3, 4, 5, ...... आदि। फॉर्मलिहाइड (Formaldehyde), ऐसीटल्डिहाइड (Acetaldehyde), प्रोपायोनल्डिहाइड (Propionaldehyde) आदि कुछ प्रमुख ऐल्डिहाइड कार्बनिक यौगिक हैं।
  3. कीटोन (Ketones): जिन कार्बनिक यौगिक में >C=O अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित रहता है, उन्हें कीटोन कहा जाता है। इनका सामान्य सूत्र (CnH2n+1)2CO होता है। ऐसीटोन या डाइमिथाइल कीटोन, मिथाइल इथाइल कीटोन, डाइइथाइल कीटोन आदि प्रमुख कीटोन हैं।
  4. कार्बोक्सिलिक अम्ल (Carboxylic acids): जिन कार्बनिक यौगिकों —COOH अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित होता है, उन्हें कार्बोक्सिलिक अम्ल कहा जाता है। इनका सामान्य सूत्र CnH2n+1COOH या CnH2nO2 होता है। फॉर्मिक अम्ल, ऐसीटिक अम्ल, प्रोपायोनिक अम्ल, ब्यूटिरिक अम्ल आदि कुछ प्रमुख कार्बोक्सिलिक अम्ल हैं।
  5. ऐसिड ऐन्हाइड्राइड (Acid Anhydrides): जिन कार्बनिक यौगिकों में RCOOCOR अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित रहता है, उन्हें ऐसिड ऐन्हाइड्राइड कहते हैं। इसका सामान्य सूत्र (CnH2n+1CO)2O होता है। ऐसीटिक ऐन्हाइड्राइड, प्रोपायोनिक ऐन्हाइड्राइड आदि कुछ प्रमुख एसिड ऐन्हाइड्राइड हैं।
  6. एस्टर (Esters): जिन कार्बनिक यौगिकों में —COOR अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित रहता है, उन्हें एस्टर कहते हैं। इसका सामान्य सूत्र CnH2n+1COOR या CnH2nO2 होता है। मिथाइल फॉर्मेट, इथाइल फॉर्मेट, मिथाइल ऐसीटेट, इथाइल ऐसीटेट आदि कुछ प्रमुख एस्टर हैं। कृत्रिम सुगन्धित पदार्थ बनाने में इथाइल एसीटेट का प्रयोग किया जाता है।
  7. ईथर (Ethers): जिन कार्बनिक यौगिकों में —O— अभिक्रियाशील मूलक उपस्थित रहता है, उन्हें ईथर कहते है। इसका सामान्य सूत्र (CnH2n+1)2O होता है। डाइमिथाइल ईथर, डाइइथाइल ईथर आदि कुछ प्रमुख ईथर यौगिक हैं। डाइइथाइल ईथर का उपयोग निश्चेतक के रूप में किया जाता है। इसे सिर्फ ईथर भी कहा जाता है।
कार्बनिक यौगिकों के सामान्य सूत्र
कार्बनिक यौगिकसामान्य सूत्रकार्बनिक यौगिकसामान्य सूत्र
1. ऐल्केनCnH2n+22. ऐल्कीनCnH2n
3. ऐल्काइन्सCnH2n-24. ऐल्काइल हैलाइडCnH2n+1X
5. ऐल्कोहॉलCnH2n+2O6. ईथरCnH2n+2O
7. एल्डिहाइड व कीटोनCnH2nO8. कार्बोक्सिलिक अम्लCnH2nO2
9. प्राथमिक ऐलीफेटिक एमीनCnH2n+1NH210. कार्बोहाइड्रेटCx(H2O)y

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *