ऊष्मा से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य Significant Facts About Heat

  • बोलोमीटर अवरक्त किरणों की उपस्थिति ज्ञात करने का यत्र है।
  • दाब बढ़ने से द्रव का क्वथनांक बढ़ जाता है।
  • रुद्धोष्म प्रक्रम में ऊष्मा ऊर्जा का विनिमय नहीं होता।
  • विकिरण द्वारा ऊष्मा के संचरण के लिए माध्यम की आवश्यकता नहीं होती।
  • हाइग्रोमीटर से आपेक्षिक आर्द्रता की माप की जाती है।
  • बहुत नीचे की तापों के अध्ययन को निम्न तापिकी कहते हैं।
  • वायुमण्डल पृथ्वी से चलने वाले विकिरण से गर्म होता है।
  • पाइरोमीटर उच्च ताप मापने का यंत्र है।
  • ताप का परम शून्य सिद्धान्ततः सम्भव न्यूनतम ताप माना जाता है।
  • न्यून तापमानों का अनुप्रयोग अन्तरिक्ष यात्रा, शल्य कर्म एवं चुम्बकीय प्रोत्थापन में होता है।
  • वह ताप, जिसके नीचे दाब बढ़ाकर गैस को द्रवीभूत किया जा सकता है, क्रांतिक कहलाता है।
  • एअर कण्डीशनर ताप तथा सापेक्षिक आर्द्रता को नियन्त्रित करता है।
  • थर्मस फ्लास्क में ऊष्मा का क्षय चालन, संवहन तथा विकिरण द्वारा संचारित होती है।
  • ज्वालामुखी को प्रकृति का सुरक्षा बाल्व कहा जाता है।
  • बर्फ पर स्कटिंग करते समय दाब के कारण बर्फ का गलनांक नीचे चला जाता है।
  • दो पतले कम्बल उनकी संयुक्त मोटाई के बराबर मोटे कम्बल की अपेक्षा अधिक गर्म रहते है, क्योंकि कम्बलों के बीच वायु की परत आ जाती है, जो ऊष्मा की कुचालक है।
  • भारत में ऊर्जा उत्पादन में सर्वाधिक भागीदारी ऊष्मीय ऊर्जा है।
  • ठण्डे देशों में कारों के रेडियटरों में पानी के साथ ग्लिसरॉल मिला दिया जाता है, जिससे पानी का जमाव बिंदु नीचा हो जाये।
  • वायुमण्डल का ताप कार्बन-डाइ-ऑक्साइड गैस की मात्रा में वृद्धि होने से बढ़ता है, क्योंकि यह गैस सौर विकिरण की अवरक्त किरणों का अवशोषण कर लेती है।
  • डायनोमीटर इंजन द्वारा उत्पन्न शक्ति को मापने का यंत्र है।
  • 100°C समतुल्य होता है 212°F तथा 373K के।
  • दाब बढ़ने से द्रव का क्वथनांक (Boiling Point) बढ़ जाता है।
  • 1 कैलोरी ऊष्मा 2 जूल कार्य के तुल्य होती है।
  • TK=t°C+273
  • ताप के विभिन्न पैमानों के ताप में निम्नलिखित संबंध होता है –

\frac { C }{ 5 } =\frac { F-32 }{ 9 } =\frac { K-273 }{ 5 }

  • हाइग्रोमीटर से आपेक्षिक आर्द्रता (Relative humidity) की माप की जाती है।
  • वातावरण के ताप में वृद्धि होने पर निरपेक्ष आर्द्रता (Absolute humidity) बढ़ती है तथा आपेक्षिक आर्द्रता (Relative humidity) घटती है।
  • जलते हुए विद्युत बल्ब के फिलामेण्ट का ताप 2000°C से 2500°C तक होता है।
  • बहुत नीचे के तापों के अध्ययन को निम्नतापिकी (Cryogenics) कहते हैं।
  • डायनमोमीटर, इंजन द्वारा उत्पन्न शक्ति को मापने का यंत्र है।
  • केल्विन स्केल पर ऋणात्मक ताप नहीं होता।
  • न्यून तापमानों (Cryogenics) का अनुप्रयोग अन्तरिक्ष यात्रा, शल्य कर्म (Surgery) एवं चुम्बकीय चुम्बकीय प्रोत्थापन (Magnetic Levitation) में होता है।
  • पाइरोमीटर उच्च ताप मापने का यंत्र है।
  • ठण्डे देशों में तापमितीय द्रव के रूप में पारे की अपेक्षा अल्कोहल को पसंद करते हैं, क्योंकि अल्कोहल का हिमांक (Freezing point) बहुत कम होता है।
  • ताप का परम शून्य (–15°C या –459.67°F) सिद्धान्तत: संभव न्यूनतम ताप माना जाता है।
  • किसी दिए हुए ताप पर वायु में उपस्थित जलवाष्प की मात्रा और वायु को सन्तृप्त करने के लिए अधिकतम जलवाष्प की मात्रा के अनुपात को आपेक्षिक आर्द्रता कहते हैं।
  • पानी में नमक मिलाने से क्वथनांक बढ़ जाता है।
  • कार्बन-डाइ-ऑक्साइड गैस ग्रीन हाउस प्रभाव उत्पन्न करती है।
  • यदि तप्त पिण्ड की सतह काली और खुरदरी हो तो वह तेजी से ऊष्मा विकिरित करता है।
  • यदि जल को 0°C से 10°C तक गर्म किया जाय, तो इसका आयतन पहले घटता है, 4°C पर न्यूनतम हो जाता है तथा फिर बढ़ने लगता है।
  • यदि जल को 0°C से 10°C तक गर्म किया जाय, तो उसका घनत्व पहले बढ़ता है, 4°C पर अधिकतम हो जाता है, फिर घटता है।
  • वह ताप, जिसके नीचे दाब बढ़ाकर गैस को द्रवीभूत किया जा सकता है, क्रान्तिक ताप (Critical temperature) कहलाता है।
  • एअर कण्डीशनर ताप तथा सापेक्षिक आर्द्रता को नियंत्रित करता है।
  • यदि एक चालू रेफ्रीजरेटर को बंद कमरे में खुला छोड़ दिया जाय, तो कमरे का तापक्रम बढ़ जाता है।
  • ऊष्मा चालन (Conduction), संवहन (Convection) तथा विकिरण (Radiation) द्वारा संचरित होती है।
  • जल की विशिष्ट ऊष्मा 0 कैलोरी/ग्राम-°C होती है।
  • रेफ्रिजरेटर में थर्मोस्टेट (Thermostat) ताप को नियंत्रित करता है।
  • ठण्डे देशों में कारों के रेडियेटरों में पानी के साथ ग्लिसरॉल (Glycerol) मिला दिया जाता है, जिससे पानी का जमाव बिन्दु (Freezing point) निचा हो जाए।
  • जब लोहे और लकड़ी को धूप में रख दिया जाए, तो लोहा अधिक गर्म प्रतीत होता है क्योंकि लोहा ऊष्मा का सुचालक है।
  • ऊष्मा की मात्रा मापने की इकाई कैलोरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *