आांशिक परीक्षण निषेध संधि Partial Test Ban Treaty - PTBT

आांशिक परीक्षण निषेध संधि, (Partial Test Ban Treaty-PTBT) का पूर्ण नाम है- वायुमंडल, बाह्य अंतरिक्ष और भूमिगत जल में परमाणु अस्त्र परीक्षण पर प्रतिबंध के लिये संधि (Treaty Banning Nuclear Weapons Tests in the Atmosphere, in Outer Space and Under Water) । यह संधि 10 अक्टूबर, 1963 को प्रभाव में आई। संधि के नाम से ही इसके प्रावधान स्पष्ट होते हैं। एनपीटी के विपरीत, पीटीबीटी में समय-समय पर समीक्षा का प्रावधान नहीं था। साथ ही, इसमें निरीक्षण का भी कोई प्रावधान नहीं था। इस कारण भूमिगत परीक्षण संधि की परिधि से बाहर था। तीन महीने की पूर्व सूचना के साथ कोई भी सदस्य देश इस संधि से यह कहते हुये बाहर हो सकता था कि इसके पालन से उसका राष्ट्रीय हित दांव पर लग गया है।

संधि असफल सिद्ध हुई, क्योंकि चीन और फ्रांस, जिन्होंने इस पर हस्ताक्षर नहीं किए थे, ने वायुमंडल में परमाणु अस्त्र परीक्षण करना जारी रखा। भूमिगत परीक्षण की अनुमति संधि ने स्वयं दे दी थी। इस प्रकार संधि ने परमाणु अस्त्रों के ऊर्ध्वगामी प्रसार को प्रोत्साहित किया। फिर भी, संधि इस अर्थ में महत्वपूर्ण थी कि इसने भविष्य में एक व्यापक परमाणु अप्रसार संधि हेतु मार्ग प्रशस्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.