अंतरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति International Olympic Committee - IOC

मुख्यालय: लुसाने (स्विट्जरलैंड)।

सदस्यता: 100 राष्ट्रीय सदस्य, 33 अवैतनिक सदस्य, 1 सम्मानित सदस्य।

उद्भव

अंतरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (International Olympic Committee—IOC) 23 जून, 1894 में अस्तित्वमान एक गैर-सरकारी अंतरराष्ट्रीय संगठन है। आईओसी आधुनिक ओलम्पिक मूवमेंट में एक सर्वोच्च प्राधिकरण है।

उद्देश्य

आईओसी का मुख्य लक्ष्य ओलम्पिक खेलों का नियमित रूप से ओयाजन करना तथा ओलम्पिकवाद एवं ओलम्पिक आंदोलन को प्रोत्साहन देना है।

ओलम्पिकवाद एक जीवन दर्शन है, जो शरीर, इच्छा और मन के गुणों को संतुलित रूप से संघटित और विकसित करता है। खेल को संस्कृति और शिक्षा से जोड़कर ओलम्पिकवाद एक ऐसी जीवनशैली विकसित करने का प्रयास करने का प्रयास करता है, जो प्रयत्नों, अच्छे उदाहरणों के शैक्षणिक मूल्यों तथा सार्वभौमिक मौलिक नैतिक सिद्धांतों से आनंदित होने पर आधारित होती है।

ओलम्पिक आंदोलन का लक्ष्य है- ओलम्पिक भावना, जिसके लिये पारस्परिक समझदारी के साथ-साथ मित्रता, एकजुटता और ईमानदारी की भावना आवश्यक है तथा भेदभावरहित खेलों के माध्यम से युवाओं को शिक्षित करके शांतिपूर्ण और सुखी संसार के सृजन में योगदान देना।

संरचना

आईओसी एक स्थायी संगठन है, जो अपने सदस्यों को स्वयं निर्वाचित करता है। प्रत्येक सदस्य को अंग्रेजी या फ्रेंच बोलने में सक्षम होना चाहिये तथा ऐसे देश का निवासी होना चाहिये जहां राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति अस्तित्व में है। कुछ अपवादों को छोड़कर प्रत्येक देश का आईओसी में एक ही सदस्य रहता है। पहले सदस्यों का चुनाव उनके पूरे जीवनकाल के लिए होता था, लेकिन 1975 के बाद से कोई सदस्य 75 वर्ष की आयु तक ही इसका सदस्य रह सकता है। ओलम्पिक खेलों तथा ओलम्पिक आंदोलन से जुड़े सभी विषयों पर आईओसी को सर्वोच्च अधिकार प्राप्त हैं। लगभग 198 राष्ट्रीय ओलम्पिक समितियां ओलम्पिक खेलों में अपने देशों का प्रतिनिधित्व करती हैं। कार्यकारी बोर्ड की प्रत्येक वर्ष चार-पांच बैठकें होती हैं, जिनमें आईओसी विषयों के प्रबंधन पर विचार किया जाता है। कार्यकारी बोर्ड में एक अध्यक्ष तथा चार उपाध्यक्ष होते हैं, जिनका निर्वाचन क्रमशः आठ वर्ष तथा चार वर्ष के लिये होता है। इस बोर्ड में सामान्यतः 6 सदस्य होते हैं, जिन्हें चार वर्ष हेतु निर्वाचित किया जाता है। आईओसी का प्रशासन महानिदेशक तथा महासचिव के माध्यम से होता है।

ओलम्पिक चार्टर आईओसी द्वारा अपनाये गये मौलिक सिद्धांतों, नियमों और उप-नियमों का संहिताकरण है। यह संगठन तथा ओलम्पिक आंदोलन के संचालन का प्रबंधन करता है तथा ओलम्पिक खेल समारोह के लिये शर्तों का निर्धारण करता है।

गतिविधियां

आईओसी की सर्वोच्च सत्ता के अंतर्गत, ओलम्पिक आंदोलन में वे संगठन, खिलाड़ी और अन्य व्यक्ति सम्मिलित होते हैं, जो ओलम्पिक चार्टर का अनुपालन करने के लिये सहमत होते हैं। आईओसी द्वारा मान्यता प्राप्त करना ओलम्पिक आंदोलन की सदस्यता का मापदंड है।

ओलम्पिक आंदोलन की गगतिविधि स्थायी और सार्वभौमिक है। महान खेल उत्सव, ओलम्पिक खेलों के अवसर पर जब सम्पूर्ण विश्व के खिलाड़ी एक मंच पर एकत्रित होते हैं तो यह अपने चरम पर होती है। ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलों का ओयाजन ओलम्पियाड (चार वर्षों की अवधि) के प्रथम वर्ष के दौरान होता है। इन खेलों पर आईओसी का एकाधिकार होता है। आईओसी ओलम्पिक खेलों का आयोजन करने वाले शहर का निर्धारण सात वर्ष पहले कर लेता है। खेल-कार्यक्रम में कुल ओलम्पिक खेलों (वे खेल जिन्हें अंतरराष्ट्रीय परिसंघ द्वारा मान्यता प्रदान की गई है तथा आईओसी द्वारा ओलम्पिक खेल के आयोजन से सात वर्ष पूर्व ओलम्पिक कार्यक्रम में सम्मिलित किया गया है) में से कम-से-कम 15 खेलों को अवश्य सम्मिलित होना चाहिये। ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलों में से इन खेलों को सम्मिलित किया जाता है- तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बेसबॉल, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, केनोइंग (canoeing), साइकिल-दौड़, अश्वारोही खेल, तलवारबाजी (fencing), फुटबॉल, जिमनास्टिक, हैंडबॉल, हॉकी, जूड़ो, आधुनिक पेंटाथलोन, नौका विहार (rowing), पाल-नौका विहार, निशानेबाजी, सॉफ्टबॉल, तैराकी (पानी के अंदर पोलो और गोताखोरी सहित), टेबल टेनिस, ताइकवांडी, टेनिस, ट्राइथलोन, वॉलीबाल, भारोत्तोलन तथा कुश्ती ।

शीतकालीन ओलम्पिक में बर्फ और हिम पर खेले जाने वाले खेल सम्मिलित होते हैं। वर्ष 1992 के बाद से शीतकालीन और ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलों का आयोजन एक ही वर्ष में होता है।

शीतकालीन ओलम्पिक में स्कैइंग (skiing), स्केटिंग, आईस हॉकी, बॉबस्ले (bobsleigh), ल्युज (luge), कलिंग (curling) और बैथलोन जैसे खेल सम्मिलित होते हैं।

आईओसी ओलम्पिक खेलों और यूथ ओलम्पिक खेलों का आयोजन प्रत्येक चार वर्ष पर ग्रीष्मकाल और शीतकाल में करती है। प्रथम ग्रीष्म ओलम्पिक का आयोजन 1896 में एथेंस (ग्रीस) में किया गया, और प्रथम शीतकालीन ओलम्पिक चेमोनिक्स (फ्रांस) में 1924 में कराए गए। पहला ग्रीष्म यूथ ओलम्पिक 2010 में सिंगापुर में और प्रथम शीत यूथ ओलम्पिक इन्सबुक में 2012 में सपन्न हुआ।

आईओसी के कुल सदस्यों की संख्या 115 से अधिक नहीं हो सकती। आईओसी के प्रत्येक सदस्य का चुनाव 8 वर्षों के लिए हो सकता है और वह एक या कई बार पुनः निर्वाचित हो सकता है।

फरवरी 2013 में, आईओसी ने 2020 में टोकियो (जापान) में आयोजित होने वाले ओलम्पिक में कुश्ती को शामिल न करने का निर्णय लिया जिसकी खिलाड़ी एवं कुश्ती पेशेवरों ने निंदा की। बाद में इस निर्णय को पलट दिया गया और कुश्ती को 2016 के रियो डी जेनिरो (ब्राजील) ओलम्पिक और 2020 के ओलम्पिक का हिस्सा बनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.