कोशिका से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य Important Facts Regarding Cell

  • कोशिका जीवन की मूलभूत संरचनात्मक इकाई है।
  • कोशिका के चारों ओर प्लैज्मा झिल्ली होती है। ये झिल्लियाँ लिपिड तथा तथा प्रोटीन की बनी होती है।
  • कोशिका झिल्ली कोशिका का सक्रिय भाग है। यहाँ पदार्थों की गति को कोशिका के भीतर तथा बाहरी वातावरण से नियमित करती है।
  • पादप कोशिका में कोशिका झिल्ली के चारों ओर एक कोशिका भित्ति होती है। कोशिका भित्ति सेल्यूलोज की बनी होती है।
  • पादप की कोशिकाओं में स्थित कोशिका भित्ति फजाई तथा बैक्टीरिया को अल्प परासरण दाबी घोल (माध्यम) में बिना फटे जीवित रहने देती है।
  • यूकैरियोट में केंद्रक दोहरी झिल्ली द्वारा कोशिकाद्रव्य से अलग होता है। यह कोशिका की जीवन प्रक्रियाओं को निर्देशित करता है।
  • ER अंत: कोशिकीय परिवहन तथा उत्पादक सतह के रूप में कार्य करता है। गॉल्जी उपकरण, झिल्ली युक्त पुटिकाओं का स्तंभ है। यह कोशिका में बने पदार्थों का संचयन, रूपांतरण तथा पैकेजिंग करता है।
  • अधिकांश पादप कोशिकाओं में झिल्ली युक्त अंगक जैसे प्लैस्टिड होते हैं। ये दो प्रकार के होते हैं - क्रोमोप्लास्ट तथा ल्यूकोप्लास्ट।
  • क्रोमोप्लास्ट, जिसमें क्लोरोफिल होता है उन्हें क्लोरोप्लास्ट कहते हैं। ये प्रकाश संश्लेषण करते हैं।
  • ल्यूकोप्लास्ट का प्राथमिक कार्य संचय करना है।
  • अधिकांश परिपक्व पादप कोशिकाओं में एक बड़ी केंद्रीय रसधनी होती है। यह कोशिका की स्फीति को बनाए रखती है और यह अपशिष्ट पदार्थों सहित महत्वपूर्ण पदार्थों का संचय करती है।
  • प्रोकैरियोटी कोशिकाओं में कोई भी झिल्ली युक्त अंगक नहीं होता। उनके क्रोमोसोम के स्थान पर न्यूक्लीक अम्ल होता है और उनमें केवल छोटे राइबोसोम अंगक के रूप में होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.