चुम्बक एवं स्थिर विद्युत सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य Important Facts About Magnetism and Static Electricity

  • विद्युत् चालक बनाने में कच्चे लोहे का प्रयोग किया जाता है।
  • चुम्बकीय क्षेत्र स्थिर आवेश से अन्तक्रिया नहीं करता।
  • स्थायी चुम्बक बनाने में स्टील का प्रयोग किया जाता है।
  • स्वतंत्रतापूर्वक लटके चुम्बक का उत्तरी ध्रुव, उत्तरी गोलार्द्ध में नीचे झुक जाता है।
  • किसी चुम्बक से हल्के से प्रतिकर्षित हो जाने वाली धातु प्रतिचुम्बकीय होती है।
  • चुम्बकीय दृष्टि से ऑक्सीजन, एल्युमिनियम, प्लेटिनम, अनुचुम्बकीय पदार्थ हैं।
  • ऐल्यूमिनियम की चुम्बकशीलता लोहे से कम होती है।
  • लौह चुम्बकीय पदार्थ में प्रत्येक परमाणु ही एक चुम्बक होता है और उनमें असंख्य परमाणुओं के समूह होते हैं, जिन्हें डोमेन कहते हैं।
  • पृथ्वी के भौगोलिक अक्ष एवं चुम्बकीय अक्ष के बीच का कोण लगभग 17 डिग्री सेल्यिस होता है।
  • बिस्मथ, एण्टीमनी, चाँदी, तांबा, जिंक, सोना, सीसा, जल, अल्कोहल, वायु, हाइड्रोजन आदि प्रतिचुम्बकीय पदार्थ हैं।
  • किसी स्थान पर भौगोलिक याम्योत्तर तथा चुम्बकीय यामयोत्तर के बीच के कोण को दिक्पात कोण कहते हैं।
  • चुम्बकशीलता का मात्रक हेनरी/मी. होता है।
  • चुम्बकीय क्षेत्र की तीव्रता एक सदिश राशि है। इसका मात्रक न्यूटन/एम्पीयर मीटर अथवा वेबर मी.2 या टेसला होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.