डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के अंतर्गत भारत के पहले हाई-स्‍पीड रूरल ब्रॉडबैंड नेटवर्क का शुभारम्‍भ

संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद केरल के इदुक्‍की जिले में 12 जनवरी 2015 को डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित एक समारोह में भारत के पहले हाई-स्‍पीड रूरल ब्रॉडबैंड नेटवर्क का शुभारम्‍भ किया।

डिजिटल इंडिया के नए युग के सूत्रपात में यह आयोजन एक महत्‍वपूर्ण मील का पत्‍थर है। एनओएफएन (National Optical Fibre Network – NOFN) दुनिया में अपने किस्‍म की विशालतम ग्रामीण कनेक्‍टीविटी परियोजना है। यह ब्रॉडबैंड ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क के माध्‍यम से भारत की 2.5 लाख पंचायतों में से प्रत्‍येक को जोड़ेगा। सम्‍पन्‍न होने के पश्‍चात, एनओएफएन द्वारा देश के 60 करोड़ से ज्‍यादा ग्रामीणों को ब्रॉडबैंड कनेक्‍टीविटी सुगम कराए जाने की सम्‍भावना है।

भारत सरकार के संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के दूरसंचार विभाग के यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड (यूएसओएफ) द्वारा वित्‍त पोषित एनओएफएन की परिकल्‍पना भेदभावरहित दूरसंचार अवसंरचना के रूप में की गई है,जो ग्रामीण दूरसंचार पहुंच की खामियों को दूर करेगा।

एनओएफएन, 2.5 लाख पंचायतों में से प्रत्‍येक को 100 एमबीपीएस की बैंडविड्थ प्राप्‍त करने में सक्षम बनायेगा, और इस प्रकार यह भविष्‍य में ई-हेल्‍थ, ई-एजुकेशन, ई-गर्वनेंस और ई-कॉमर्स जैसी विभिन्‍न ई-सर्विसिज और एप्‍लीकेशंस प्रदान करने में सहायक सिद्ध होगा।

पहले चरण में एनओएफएन के दायरे में 50,000 ग्राम पंचायतों को लाया जाएगा और शेष 2,00,000 ग्राम पंचायतों को 2016 तक चरणबद्ध ढंग से कवर किया जाएगा। पहले चरण में यह परियोजना तीन केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (सीपीएसयू)- बीएसएनएल, पीजीसीआईएल और रेलटेल के माध्‍यम से कार्यान्वित की जा रही है।

इस परियोजना की प्रमुख विशेषता यह है कि इसमें इस्‍तेमाल किया गया जीपीओएन उपकरण सी-डॉट द्वारा स्‍वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित तथा घरेलू स्‍तर पर निर्मित किया गया है। इस परियोजना का केंद्रीय प्रबंधन बीबीएनएल (Bharat Broadband Network Limited - BBNL) द्वारा, सी-डॉट की ओर से विकसित की जा रही उच्‍च क्षमता वाली नेटवर्क प्रबंधन प्रणाली के जरिये किया जाएगा।

अपेक्षाकृत दुर्गम और विशाल जनजातीय एवं ग्रामीण आबादी वाले इदुक्‍की जिले में प्रारम्‍भ के साथ, वह देश का पहला ऐसा जिला बन जाएगा, जिसकी सभी पंचायतें एनओएफएन के माध्‍यम से जुड़ी होंगी। एनओएफएन की स्‍थापना से मोबाइल ऑपरेटरों, केबल टीवी ऑपरेटरों आदि जैसे सेवा प्रदाताओं के लिए अगली पीढ़ी की सेवाएं शुरू करने के नए रास्‍ते खुलने और ई-कॉमर्स, आईटी आउटसोर्सिंग आदि जैसे रोजगार के स्‍थानीय अवसरों के सृजन साथ ही साथ समावेशी विकास के लिए ई-बैंकिंग, ई-हेल्‍थ और ई-एजुकेशन जैसी सेवाओं को प्रोत्‍साहन मिलने की सम्‍भावना है। इससे विभिन्‍न सेवाओं जैसे पंचायत स्‍तर पर सरकारी योजनाओं का स्‍थानीय नियोजन, प्रबंधन एवं निगरानी तथा भुगतान भी संभव हो सकेगा।

डिजिटल इंडिया केंद्र सरकार का प्रमुख कार्यक्रम है, जिसका लक्ष्‍य भारत को डिजिटली समर्थ समाज एवं ज्ञान आधारित अर्थव्‍यवस्‍था में परिवर्तित करना है। प्रत्‍येक नागरिक को ब्रॉडबैंड कनेक्‍टीविटी उपलब्‍ध कराना डिजिटल इंडिया के प्रमुख उद्देश्‍यों में से एक है और इदुक्‍की में एनओएफएन नेटवर्क का प्रारम्‍भ इस महत्‍वाकांक्षी विज़न को कार्यान्वित करने की दिशा में महत्‍वपूर्ण कदम होने की सम्‍भावना है।

केरल का इदुक्‍की पूर्ण रूरल ब्रॉडबैंड कवरेज वाला भारत का पहला जिला बना

नेशनल ऑप्‍टिकल फाइबर नेटवर्क (एनओएफएन) के आरंभ के साथ ही केरल का इदुक्‍की भारत का पहला ऐसा जिला बन गया है जिसके सभी क्षेत्र हाई स्‍पीड ब्रॉडबैंड से जुड़े हुए हैं। वर्तमान में जिले में आठ ब्‍लॉक कार्यालय और 53 ग्राम पंचायतें हैं जिनमें से सभी आठ ब्‍लॉक कार्यालयों और 52 ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर पर जोड़ा जा चुका है। वहीं, एक ग्राम पंचायत – इदामालाकुडी को वीसैट के जरिए जोड़ा गया है। इदामालाकुडी एक जनजातीय ग्राम पंचायत है जिसमें 26 जनजातीय गांव हैं जिनकी आबादी करीब 2200 हैं। यह पेट्टीमुडी से करीब 18 किमी. की दूरी पर है और दूरदराज का यह इलाका वाहन से यात्रा का अंतिम छोर है। बीएसएनएल ने इस ग्राम पंचायत को जोड़ने के लिए काफी प्रयास किए हैं और अब वहां ब्रॉडबैंड इंटरनेट के साथ ही साथ मोबाइल सेवाएं भी उपलब्‍ध हैं। पहली बार इस पंचायत के अंतर्गत सभी गांव मोबाइल फोन और इंटरनेट के माध्‍यम से जुड़े होंगे।

एनओएफएन की स्‍थापना से दूरसंचार सेवा प्रदाताओं, इंटरनेट सेवा प्रदाताओं और केबल टीवी ऑपरेटरों, कन्‍टेंट प्रदाताओं आदि जैसे सेवा प्रदाताओं को नए अवसर मिलेंगे ताकि वे नई पीढ़ी की सेवाएं शुरू कर सकें और स्‍थानीय स्‍तर पर रोजगार के अवसरों के सृजन में वृद्धि हो सकें।

इस अवसर पर केरल के माननीय मुख्‍यमंत्री श्री ओमन चांडी, केरल के उद्योग एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री पी.के. कुन्‍हालीकुट्टी, केरल के पंचायत एवं समाज कल्‍याण मंत्री श्री एम.के. मुनीर, केरल के सिंचाई मंत्री श्री पी.जे. जोसेफ, केरल में विपक्ष के नेता श्री वी.एस. अच्‍युतानंदन, केरल में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष श्री वी. मुरलीधरन,  इदुक्‍की से माननीय सांसद श्री जॉयस जॉर्ज और दूरसंचार सचिव श्री राकेश गर्ग आदि उपस्थित थे।

2 thoughts on “डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के अंतर्गत भारत के पहले हाई-स्‍पीड रूरल ब्रॉडबैंड नेटवर्क का शुभारम्‍भ

    • August 2, 2016 at 11:54 am
      Permalink

      मुकेश कुमार जी,

      हमारी वेबसाइट पर नियमित रूप से अलग-अलग विषयों पर अध्ययन सामग्री अपडेट की जा रही है, जल्द ही कंप्यूटर से सम्बंधित विषय सामग्री भी डाल दी जाएगी.

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mobile application powered by Make me Droid, the online Android/IOS app builder.